खुन्नस

उन्हें शोहरत, मुझें रूसवाई मिली 
तो क्या ? हो सके तो हम 
और भी उन्हें इनाम देंगे
उन्हें तोहफे में अपनी
एक जिंदगी गुमनाम देंगे !!

नजर जो आये
कभी किसी राह में
कोशिश होगी
अश्कों को न बहने देंगे
धड़कते दिल को थाम लेंगे !!

छोड़  दे वो मुझे मेरे हाल पर
हम उनका बहुत  नाम लेंगे
मुझसे झूठी ही सही 
मुहब्बत की, शुक्रिया उनका 
मगर हिम्मत नहीं और..
अब न उनका एहसान लेंगे !!

बहुत बुरे दौर से गुजरे हैं हम 
उनकी मेहरबानी हो तो 
थोड़ी सांस ले लें,
फुर्सत बख्से हमें 
हताश अपने दिल को 
अब थोडा आराम देंगे !!
     

3 टिप्‍पणियां:

रश्मि प्रभा... ने कहा…

छोड़ दे वो मुझे मेरे हाल पर
हम उनका बहुत नाम लेंगे
मुझसे झूठी ही सही
मुहब्बत की, शुक्रिया उनका
मगर हिम्मत नहीं और..
अब न उनका एहसान लेंगे !!
jaandaar abhivyakti

V.K ने कहा…

jab bhi mai aapka post padhta hun to mujhe apna dil thaam ke rakhna para hai.... sach me kya khoob likha hai apne

Anil Avtaar ने कहा…

Rashmi Ji..
V.K.Sahab..

Bahut-bahut shukriya aapka..
apni snehil drishti mujh par banayein rakhein..